Manipur News:मणिपुर के चर्चा के लिए संसद में हंगामा, आप संसद संजय सिंह पूरे मानसून सत्र के लिए सस्पेंड


नई दिल्ली। संसद में मानसून सत्र कि तीसरे दिन  हंगामा भरा रहा। लोक सभा और राज्य सभा मे विपक्षी संसदो ने नारेबाजी की। हंगामे के कारण 25 जुलाई तक स़त्र को स्थागित कर दिया गया है।

राज्य सभा में मणिपुर को लेकर सभापति जगदीश धनखड़ से आप संसद संजय सिंह के बहस के कारण पूरे मानसून सत्र कि लिए सस्पेंड कर दिया गया। उन पर सभापति का आदेश न मानने आरोप हैं। सस्पेंड करने के बाद उनको बाहर जाने का भी कहा गया। विपक्षी संसदो ने इस करवाई का विरोध किया।

आप संसद के सस्पेंड पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जु खड़गे ने कहा कि यह पहली बार नही हुआ हैं कि कोई विरोध जता रहा है। लोग संसद में विरोध करते हैं लोकतंत्र में बोलने की अजादी है।विपक्ष का अवाज दबाया जा रहा हैं । सरकार की मंशा हैं कि किसी भी तरह से विपक्ष की  अवाज बंद किया जाए। पिछली बार भी उन्होने ने ऐसा ही किया था।

राज्य सभा से सस्पेंड होने के बाद बोल संजय सिंह

संजय सिंह संसद से सस्पेaaaaड होने के बाद सदन से बाहर आकर कहा कि देश के प्रधानमंत्री सदन में मणिपुर हिंसा पर जबाव नही दे रहीे हैं । एक आर्मी योद्वा की पत्नी के कपड़े उतरवाकर परेड करवाई गयी। यह शर्मनाक हैं। यह सेना और देश के 140 करोड़ लोगो का सिर शर्म से झूक गया। प्रधान मंत्री सदन में आकर जबाव दे।

मै 267 के तहद सदन में चर्चा के लिए नोटीस दिया था । 15 मिनट तक अुनरोध करता रहा। कि 267 के तहद बोलने का मौका दिया जाए। जब मौका नही दिया बोलने के लिए तो मैने चेयर के पास जाकर अनुरोध किया कि मणिपुर पर चर्चा कराए । एक सरकार मणिपुर पर बात करने  के लिए तैयार नही है।

हमारा विरोध जारी रहेगा।  महात्मा गांधी के प्रतिमा पर मैं अपना विरोध जारी रखूंगा। हमने सभी राजनीतिक पार्टीयो से अनुरोध किया हूं की इस आंदोलन में शामिल हो।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने  कहा हैं- मैं मणिपुर की घटना को लेकर सदन में चर्चा कि लिए तैयार हूं। मुझे नही पता नही वो यह चर्चा क्यो नही होने देते। मेरा आग्रह हैं कि विपक्ष चर्चा होने दे ताकि महत्वपूर्ण मुद्दे पर बात हो और देश के सामने सच्चाई पहुचे।

विपक्ष की मांग हैं कि प्रधानमंत्री संसद के सदस्य हैं जो बयान प्रेस को दिये हैं वही बयान संसद के अन्दर दे सकते हैं । उसके बाद मुद्दे पर चर्चा हो जायेगी।



सन्देश दुनिया आपका अपना न्यूज पोर्टल है. हम तक ख़बरें पहुंचाएं sandeshdunia@gmail.com (Whatsapp @ 7272 8181 36के माध्यम से


Post a Comment

Previous Post Next Post